ईडी क्या है? ED Full Form In Marathi – ED Full Form In Hindi

ED Full Form In Marathi – अंमलबजावणी संचालनालय

ED Full-Form – Directorate of Enforcement (प्रवर्तन निदेशालय)

(ED Full Form In Marathi) दोस्तों अक्सर आपने अखबारों और टीवी के न्यूज़ चैनल पर हाई प्रोफाइल कैसो में ED के बारे में जरूर सुना होगा अभी कुछ समय से ED Department अपने काम की वजह से मीडिया में छाया हुआ है। तोह आज का हमारा विषय रहेगा की ED क्या है, इसकी फुल फॉर्म क्या होती है (ED Full Form In Marathi) ED के सदस्य कैसे चुने जाते है? तोह आइये इन सभी सवालो के बारे में विस्तार से जानते है।

ED का फुल फॉर्म क्या होता है? ED Full Form In Hindi

ED Full-Form – Directorate of Enforcement

ED Full-Form In Hindi – प्रवर्तन निदेशालय

ED Full-Form In Police – Directorate of Enforcement

ED Full-Form In Marathi – अंमलबजावणी संचालनालय

B ed Full-Form –  Bachelor of Education

D ed Full-Form – Diploma in Education

M ed Full-Form – Master of Education

ED क्या है?

दोस्तों ED का पूरा नाम है Directorate Of Enforcement जिसे हिंदी में प्रवर्तन निदेशालय कहा जाता है। यह एक प्रकार की ख़ुफ़िया एजेंसी जाँच एजेंसी है। जो हमारे देश में आर्थिक कार्यो पर नजर रखती है। यह एजेंसी Money Laundring के मामलो की जाँच करती है। आय से अधिक सम्पति होने पर जाँच करते है। दरअसल यह जाँच एजेंसी भारत सरकार के वित्तीय मंत्रालय के अंतर्गत काम करती है। ED का मुख्य काम भारत में विदेश से जुडी   सम्पति और अन्य तरह की सम्पति की जाँच करना है।

ED के सदस्य कैसे चुने है?

आपको बता दे की ED के सदसियो का चुनाव IAS औय IPS रैंक के आधार पर होता है। दोस्तों किसी भी तरह की आर्थिक उथल-पुथल में ED की यह जिम्मेदारी होती है की वो सही तरीके से मामले की जांच करे। और आर्थिक रूप से कानून लागु करने की शक्ति भी ED के पास होती है।

ED की स्तापना कब हुई थी?

दोस्तों ED की स्तापना सन 1 मई 1956 को की गयी थी। ED की स्तापना करने का उद्देसिये देश में कालाबाजारी करके अवैध संपत्ति इकठी करने वालो पर शिकंजा कसना था। ED की स्तापना का उददेशिये सफल रहा अब कोई भी अवैध तरीको से संपत्ति दर्ज करने से पहले सौ बार सोचता है।

ED का मुख्य कार्यालय कहाँ स्थित है?

ED के पांच मुख्य कार्यालय है।
1. चडीगढ़ 
 
2. चेन्नई 
 
3. कोलकाता 
 
4. दिल्ली 
 
5. मुंबई 
 

ED के अधिकार क्या है?

दोस्तों ED यानि प्रवर्तन निदेशालय को फेरा 1973 और फेमा 1999. ये दो अधिनियम के तहत भारत सरकार की सभी वित्तीय जांच करने का अधिकार प्राप्त है। इसके अलावा भारत सरकार ने ED को विदेशी मुद्रा अधिनियम के तहत उलंघन से निपटने की पूरी छूट दी है। इसके अलावा ED को भारत सरकार द्वारा कुछ और अधिकार भी प्राप्त है जैसे विदेश में किसी भी सम्पति पर कारवाही कर रोकथाम  अधिकार ED के पास होता है। Money Laundrind के आरोप में पाए गए लोगो के खिलाफ जब्ती, गिरफ़्तारी और खोज करने का अधिकार भी ED के पास होता है।

आज अपने क्या सीखा

आसा करता हु आपको हमारी जानकरी बेहत पसंद आयी होगी। इस पोस्ट के द्वारा आपको सिखने को मिला की ED क्या है, इसकी फुल फॉर्म क्या होती है (ED Full Form In Hindi) ED के सदस्य कैसे चुने जाते है और ED के अधिकार क्या है? अगर आपको हमारी ये जानकरी अच्छी लगी हो तोह इस लेख को जरूर अपने दोस्तों तक शेयर जरूर करे। ध्न्यवाद

Other Posts:

Leave a Comment