आईएसपी क्या होता है पूरी जानकारी हिंदी में? ISP Full Form In Hindi

 ISP Full-Form – Internet Service Provider (इंटरनेट सेवा प्रदाता)

नमस्कार दोस्तों स्वगत है आपका हमारी एक और नयी जानकरी में जिसमे आज हम बात करेंगे ISP के उप्पर की आखिर ये ISP Kya Hota Hai,  ISP का पूरा नाम क्या है (ISP Full Form In Hindi)  ISP कैसे काम करता  है? इन सभी सवालो के जवाब जानने के लिए बने रहिये हमारे साथ इस पोस्ट में लास्ट तक।

ISP का पूरा नाम क्या होता है?

दोस्तों अक्सर आप के मन में सवाल आता होगा की क्या ISP का भी कोई फुल फॉर्म होता है? तो जी हाँ इसका एक नहीं बल्कि अनेक फुल फॉर्म होती है तोह चलिए जानते है की वो कौन सी फुल फॉर्म है?

ISP Full-Form – Internet Service Provider 

ISP Full Form in Hindi – इंटरनेट सेवा प्रदाता

ISP Full Form in Marathi – इंटरनेट सेवा प्रदाता

ISP Full Form in Bengali – ইন্টারনেট পরিষেবা সরবরাহকারী

ISP Full Form in Sales –  Institute of Sales Promotion

ISP Full Form in Computer –  Internet Service Provider 

ISP Full Form in Internshala – Internshala Student Partner 11

ISP Full Form in Camera –  Image Signal Processor

ISP Full Form in Medical – Individualized Support Plan

ISP Full Form in Networking – Internet Service Provider 

ISP Full Form in Telecom – Internet Service Provider 

ISP Kya Hota hai?

दोस्तों ISP का पूरा नाम Internet Service Provider होता है इसे हिंदी में इंटरनेट सेवा प्रदाता भी कहा जाता है ISP एक ऐसी संस्था या कंपनी को कहते हैं जो लोगों और छोटे बड़े सभी आर्गेनाईजेशन को इंटरनेट की सुविधा प्रदान करने का काम करते हैं चाहे हम घर पर हो, ऑफिस में हो या फिर सफर कर रहे हो हर बार जब हम इंटरनेट से जुड़ते हैं तब इंटरनेट के साथ हमारी डिवाइस का कनेक्शन एक ISP के माध्यम से जुड़ता है।  ISP Full Form In Hindi
 
एक ISP इंटरनेट पर Users के लिए प्रवेश द्वार प्रदान करता है आईएसपी इंटरनेट के साथ-साथ कई अन्य सर्विस भी प्रदान करते हैं जैसे वेबपेज, होस्टिंग, डोमेन नेम रजिस्ट्रेशन, मेल सर्विसेज, फाइल ट्रांसफर इत्यादि इसे अन्य कंपनियों की तरह ही इंटरनेट सेवा प्रदाता अपनी सेवाओं के लिए यूजर से पैसे लेते हैं।
ISP अपने यूजर्स से दो प्रकार का शुल्क लेती है पहला इंटरनेट दान करने के लिए और दूसरा इंटरनेट कनेक्शन देने के लिए यूजर्स को इंटरनेट कनेक्शन देने के लिए और इंटरनेट उपयोग करने का शुल्क ISP को देना पड़ता है यह शुल्क भी Users से समय अवधि, दूरी गति और डाउनलोड अपलोड की मात्रा के अनुसार लिया जाता है ISP अलग-अलग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके लोगों को इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराता है।
इन सभी टेक्नोलॉजी का उपयोग ISP अपने यूजर्स की डिमांड के अकॉर्डिंग करते हैं जैसे कि काम Area के अंदर इंटरनेट की सेवा प्रदान करने के लिए ISP केबल बोर्ड और वाईफाई इंटरनेट की मदद लेते हैं जिन्हें बड़े पैमाने या बिजनेस के लिए इंटरनेट की आवश्यकता होती है।  ISP Full Form In Hindi
 
ISP उन्हें इंटरनेट Metropolitan इंटरनेट Frame Relay जैसे माध्यम से इंटरनेट प्रदान करते हैं यह आईएसपी है जो यूजर्स को इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए सक्षम बनाते हैं अगर आपके पास एक कंप्यूटर है जिसके साथ Module या नेटवर्किंग के लिए एक Ruder लगा हुआ है लेकिन अगर आपका नेटवर्क ISP के साथ कनेक्ट नहीं है तो आपके डिवाइस के साथ इंटरनेट से कनेक्शन नहीं होगा इसीलिए किसी भी माध्यम को ISP के साथ कनेक्ट होकर रहना ही पड़ेगा तभी इंटरनेट प्रदान किया जा सकता है।

ISP को कितनी Category में बाँटा गया है?

अब हम जानेंगे कि ISP को कितनी कैटेगरी में बांटा गया है इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को तीन कैटेगरी में बांटा गया है जिन्हें टायर वन टायर टू और टायर तीन कहते हैं। सबसे पहले जानते हैं टायर वन के बारे में।  ISP Full Form In Hindi


1. Tier 1

 
ISP अन्य ISP की तुलना में सबसे बड़ी ISP कंपनी होती है जो अन्य देशों को इंटरनेट से जोड़ने का कार्य करती है यह कंपनियां समुद्र के अंदर केबल बिछाकर सभी देशों के बीच इंटरनेट प्रदान करने का कार्य करती हैं इंटरनेट यूजर इंटरनेट का इस्तेमाल करने का जो भुगतान भरता है उसका सबसे ज्यादा हिस्सा इस टायर फर्स्ट कंपनी को जाता है।

2. Tier 2

ISP कंपनी टायर वन ISP कंपनी की तुलना में छोटी कंपनी होती है Tier 1 इंटरनेट का कनेक्शन समुद्र के देश तक लाती है तबकी टायर टू कंपनी इंटरनेट कनेक्शन को देश के विभिन्न राज्यों और शहरों तक पहुंचाने का कार्य करती है इसका मतलब है कि टायर वन कंपनी अलग-अलग देशों तक इंटरनेट पहुंचाने का काम करती है और टायर टू कंपनी देश के राज्य तक इंटरनेट पहुंचाने का कार्य करती है।  ISP Full Form In Hindi
 

3. Tier 3

ISP यह सबसे छोटा ISP होता है जो शहर के अंदर ब्लॉक कॉलोनी और घर तक इंटरनेट कनेक्शन प्रोवाइड कराने का कार्य करती है टायर 3 ISP company Tier 2 ISP से कनेक्शन लेकर घरों तक इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करते हैं।

ISP काम कैसे करता है?

अब हम जानेंगे कि आईएसपी काम कैसे करता है; इंटरनेट की सबसे खास बात यह है कि इसका कोई मालिक नहीं होता है इंटरनेट छोटे-बड़े बहुत सारे नेटवर्क का ग्लोबल कनेक्शन होता है जहां पर सभी नेटवर्क किसी ना किसी तरीके से जुड़े हुए होते हैं और यही नेटवर्क दुनिया भर के कंप्यूटर्स को आपस में कनेक्ट है सभी कंप्यूटर जो इंटरनेट से जुड़े रहते हैं वह इस नेटवर्क का एक हिस्सा बन जाते हैं असल में इंटरनेट एक बहुत बड़ा जाल होता है Networks का जिसे कंप्यूटर की भाषा में Transmission Medium बोला जाता है यह जाल एक वायर होता है। ISP Full Form In Hindi
 
 
जिसमें जानकारी और डाटा दुनिया भर में घूमता रहता है दुनिया के कोने कोने तक इंटरनेट की सुविधा पहुंचाने के लिए esi belt का इस्तेमाल किया जाता है जिसे इंटरनेट का बैकबोन भी कहा जाता है इन लाइंस को कनेक्ट किया जाता है अलग-अलग लोकेशन में मौजूद मेजर इंटरनेट के साथ ऑल डाटा को अलग-अलग लोकेशन पर डिस्ट्रीब्यूटर करते हैं इन इंटरनेट आपको ही ISP कहा जाता है ज्यादातर ISP एक केबल डीएसएल fibre कनेक्शन के जरिए Broadband Internet प्रदान करते हैं जैसे अगर आपके घर में इंटरनेट के साथ रोडर लगा हुआ है इंटरनेट की सेवा प्रदान करने के लिए तो वो रूटर भी एक ISP के साथ कनेक्ट होकर इंटरनेट प्रदान करता है।
आपके ऑफिस में आपका कंप्यूटर कंपनी के वाईफाई से जुड़ा हुआ है तब भी आपकी कंपनी का किसी ना किसी ISP के साथ कनेक्शन होता है तब इंटरनेट की सेवा आपको मिल रही होती है उसी तरह जब आप एक पब्लिक वाईफाई के माध्यम से इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं तब वहां पर भी वाईफाई रूटर ISP के साथ कनेक्ट होता है आपको इंटरनेट प्रोवाइड करने के लिए यूआरएल डाटा टावर भी कहीं ना कहीं किसी ISP के साथ जुड़ा होता है और स्माल नेटवर्किंग के जरिए इंटरनेट प्रदान करने के लिए आज के समय मे अधिकतर ISP कंपनी केबल के जरिए users तक इंटरनेट पहुंचाती हैं।  ISP Full Form In Hindi
 
वहीं अब कुछ कंपनियां धीरे-धीरे वायरलेस इंटरनेट सर्विस की शुरुआत कर चुके हैं आईएसपी wire मीडियम के अलावा Wireless networking सिस्टम से भी इंटरनेट सेवा प्रदान करते हैं पहले जब केबल  सिस्टम द्वारा इंटरनेट की सुविधा प्रदान की जाती थी पर इसके लिए नेटवर्क प्रोवाइडर कंपनी को पूरे एरिया में वायर बिछाने पडते थे लेकिन वायरलेस मीडियम की शुरुआत होने के बाद सिर्फ टावर और सेटेलाइट की मदद से लोगों तक इंटरनेट पहुंचाया ISP की मदद से आज दुनिया के हर कोने मैं हर व्यक्ति तक इंटरनेट की पहुंच बन सकी है।

आज आपने क्या सीखा

आसा करते है आपको हमारी सभी जानकरी पसंद आ रही होगी इस पोस्ट के माधियम से आपको सिखने को मिला की ये ISP Kya Hota Hai,  ISP का पूरा नाम क्या है (ISP Full Form In Hindi)  ISP कैसे काम करता  है? अगर आपको हमारी ये जानकरी पसंद आयी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और जानने वालो को शेयर जरूर करे। धन्यवाद…

Other Posts:

(Amazing Trick 2021) अब गूगल बतायेगा आपका नाम? Google Mera Naam Kya Hai

What is NGO? NGO Full Form In Hindi

Leave a Comment