CIMOS Full Form In Hindi – CIMOS Kya Hai हिंदी में

 CIMOS Full Form – Complementary Metal-Oxide

 Semiconductor (पूरक धातु ऑक्साइड सेमीकंडक्टर)

 
नमस्कार दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आपका हमारी एक और नई जानकारी में हमने पिछली पोस्ट में आपको BIOS के बारे में बताया था कि BIOS एक सॉफ्टवेयर है जिसकी वजह से कंप्यूटर चालू हो पाता है BIOS सिस्टम का Seeting एक छोटे से Chip में स्टोर होता है और उस चीज को CMOS कहते हैं तो आज की इस पोस्ट में आपको बताएंगे कि आखिर ये CIMOS Kya Hai,  CIMOS का पूरा नाम क्या है (CIMOS Full Form In Hindi) CIMOS और BIOS में क्या अंतर है? इन सभी सवालो के जवाब जानने के लिए बने रहिये हमारे साथ इस पोस्ट में लास्ट तक।

CIMOS Full Form In Hindi

CMOS Full Form in Computer – Complementary Metal-Oxide Semiconductor

CMOS Full Form in Hindi – पूरक धातु ऑक्साइड सेमीकंडक्टर

CMOS Full Form in Medical – Chief Medical Officers

CMOS Full Form in vlsi – Complementary Metal-Oxide Semiconductor

CMOS Full Form in Marathi – पूरक धातू-ऑक्साइड सेमीकंडक्टर

CMOS Full Form in Bengali – শেষ ঘন্টা

CIMOS Kya Hai?

(CIMOS Full Form In Hindi) CIMOS का पूरा नाम है Complementary Metal-Oxide Semiconductor. यह कंप्यूटर की बहुत छोटी मेमोरी होती है जिसका आकार आमतौर पर 256 बाइट होता है बॉयोस की सेटिंग इसी में स्टोर होती है साथ ही इस चिप में सिस्टम पर किस प्रकार के डिस्क ड्राइव इंस्टॉल किए गए हैं और कंप्यूटर का टाइम एवं अन्य सेटिंग इसी में ही स्टोर होती है CIMOS छोटी Ram की तरह होती है जिसमें सभी बायोस जानकारी को स्टोर किया जाता है ताकि हर बार कंप्यूटर बंद या चालू होने पर कंप्यूटर इन जानकारियों को याद रख सके CIMOS को दूसरे नामों से भी जाना जाता है जैसे: CMOS-RAM, Non-Volatile Ram (NVRAM), (NVBM) & Real Time Clock (RTC)
CIMOS एक मेमोरी है जिसमें कुछ चीजें स्टोर रहती है और मेमोरी कई तरह की होती है जैसे Volatile और Non-Volatile.
NON-VOLATILE  मेमोरी उसे कहते हैं जिसका डाटा पावर ऑफ होने पर कंप्यूटर में से डाटा डिलीट नहीं होता और NON-VOLATILE उसे कहते हैं जिसका डाटा पावर ऑफ होने पर डिलीट हो जाता है जो CIMOS है वह एक NON-VOLATILE Memory है इसका मतलब है कि जब भी इसमें पावर नहीं होगा तो इस Chip में जो डाटा है वह डिलीट हो जाएगा इसका डाटा कभी खत्म ना हो और इसे लगातार Power मिलती रहे तो इसके लिए MotherBoard में एक बैटरी इंस्टॉल रहती है जो सिर्फ CIMOS के कार्य को पूरा करने के लिए बनाई गई होती है उसे हम CIMOS Battery कहते हैं। CIMOS Full Form In Hindi 
 
 

CIMOS और BIOS में क्या अंतर है?

1. CIMOS और BIOS दोनों अलग-अलग उपकरण है जो साथ मिलकर काम करते हैं बॉयोस मदरबोर्ड में लगा एक चिप है जिसका काम प्रोसेसर और हार्डवेयर के बीच संचार करना होता है अगर बॉयोस चिप ना हो तो प्रोसेसर यह नहीं जान पाता की कंप्यूटर के उपकरण के साथ काम कैसे करना है।
2. वहीं CIMOS Memory मदरबोर्ड में लगी एक चिप होती है यानी विशेष रूप से एक Ram चिप है जिसका मतलब है कि यह सामान्य रूप से कंप्यूटर के कुछ सेटिंग को खो देगा जो कंप्यूटर बंद होने पर उसे स्टोर करती है इसलिए सीमा उसका काम बैटरी के रूप में बॉयोस की सेटिंग को सुरक्षित करना होता है। CIMOS Full Form In Hindi 

आज आपने क्या सीखा

आसा करते है आपको हमारी सभी जानकरी पसंद आ रही होगी इस पोस्ट के माधियम से आपको सिखने को मिला की आखिर ये CIMOS Kya Hai,  CIMOS का पूरा नाम क्या है (CIMOS Full Form In Hindi) CIMOS और BIOS में क्या अंतर है? अगर आपको हमारी ये जानकरी पसंद आयी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और जानने वालो को शेयर जरूर करे। धन्यवाद…

Other Posts:

बीटीएस क्या है? BTS Full Form In Hindi

आरटीजीएस क्या होता है? RTGS Full Form in Hindi

Leave a Comment