JEE Full Form In Hindi – JEE Mains Kya Hai & JEE Advance Kya Hai हिंदी में

Table Of Contents hide
2 (संयुक्त प्रवेश परीक्षा)

 JEE Full Form – Joint Entrance Examination

 (संयुक्त प्रवेश परीक्षा)

नमस्कार दोस्तों एक बार फिर से स्वगात है आपका हमारी एक और नयी जानकरी में जिसमे आज हम बात करेंगे JEE के उप्पर की आखिर ये JEE Mains Kya Hai & JEE Advance Kya Hai, JEE का पूरा नाम क्या है (JEE Full Form In Hindi) JEE Mains & JEE Advance करने के बाद एडमिशन कहाँ मिलेगा, JEE Mains & JEE Advance पेपर कैसा होता है और JEE Advance के लिए अप्लाई कैसे करे? इन सभी सवालो के जवाब जानने के लिए बने रहिये हमारे साथ इस पोस्ट में लास्ट तक।

JEE Full Form क्या है?

JEE Full Form in English – Joint Entrance Examination

JEE Full Form in Java – Jakarta Enterprise Edition

JEE Full Form in Hindi – संयुक्त प्रवेश परीक्षा

JEE Full Form in Tamil – கூட்டு நுழைவுத் தேர்வு

JEE Full Form in Kannada – ಜಂಟಿ ಪ್ರವೇಶ ಪರೀಕ್ಷೆ

JEE Full Form in Telugu – ఉమ్మడి ప్రవేశ పరీక్ష

JEE Mains Kya Hai?

Engineering में Admission लेने के लिए वैसे तो कई सारी State-Level एग्जाम आयोजित होते है किन्तु National Level पर ली जाने वाली एग्जाम में से JEE एक है। JEE Mains Engineering कॉलेज में एडमिशन के लिए ली जाने वाली सयुक्त प्रवेश परीक्षा है। जो CBSE द्वारा साल में 2 बार आयोजित की जाती है। कुछ वर्षों पहले से JEE को दो भागों में बांट दिया गया है पहला JEE Mains एवं दूसरा JEE Advance.
 
 

JEE Mains कौन दे सकता है?

11th और 12th Physics, Chemistry, Maths से पास करने वाला छात्र। वह छात्र  जो 12वीं कक्षा में पढ़ रहे हैं और 12th या समकक्ष Physics, Chemistry, Maths के साथ उत्तरण छात्र यह सभी JEE Mains दे सकते हैं।

JEE Mains करने से कहाँ Admission मिलेगा?

अगर आपने इस एग्जाम में काफी अच्छा Score किया है तो आपको NIT, IIT जैसे प्रशिक्षित कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है इसके अलावा कम Score होने पर आपको दूसरे अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश मिल जाएगा मतलब साफ है आप का स्कोर जितना अच्छा आपको उतना ही अच्छा कॉलेज मिलेगा।

JEE Mains का पेपर कैसा होता है?

JEE Mains की एग्जाम ऑनलाइन होती है इस Exam में कुल 90 प्रश्न होते हैं प्रत्येक विषय फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ से 30-30 प्रश्न होते हैं कुल 360 अंकों के प्रश्न इस पेपर में पूछे जाते हैं सभी प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप के होते हैं एक क्वेश्चन के 4 जवाब में से एक सिलेक्ट करना होता है प्रत्येक गलत उत्तर का 1/4 नंबर काटा जाता है यानी गलत उत्तर की नेगेटिव मार्किंग होती है।

JEE Mains कितनी बार दे सकते है?

जब आप 12वीं कक्षा में पढ़ रहे होते हैं तभी से लेकर अगले 3 वर्षों तक आप JEE Mains की एग्जाम दे सकते हैं प्रत्येक वर्ष दो बार यह परीक्षा ली जाती है इस तरह से आप अधिकतम 6 बार यह परीक्षा दे सकते हैं तो दोस्तों यह थी कुछ सामान्य जानकारी JEE Mains से जुड़ी अब बात करते है JEE Advance के बारे में।

JEE Advance Kya Hai?

JEE Advance भी JEE Mains की तरह इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन के लिए ली जाने वाली एक एंट्रेंस एग्जाम है लेकिन Advance और Mains में बहुत अंतर है यह JEE Mains का एक अलग लेवल है इसमें जो छात्र सम्मिलित होते हैं वह JEE Mains के टॉप 1 लाख 50,000 छात्र होते हैं एवं इसमें सफल छात्रों को IIT जैसे कॉलेज में एडमिशन मिलता है।

JEE Advance कौन दे सकता है?

वह छात्र जो 12वीं कक्षा में 75% अंकों के साथ पास हो (General & OBC: 75%, SC/ST/PWD: 65%), वह छात्र जो JEE Mains के रिजल्ट में रैंक करीब दो लाख के अंदर हो । सिर्फ डेढ़ लाख छात्र ही JEE Advance दे सकते हैं। वह छात्र जिसकी उम्र 25 साल से अधिक ना हो और कोई भी छात्र अधिकतम साल में दो बार JEE Advance दे सकता है।

JEE Advance करने से कहां है एडमिशन मिलेगा?

JEE Advance IIT इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में एडमिशन के लिए जानी जाती है लेकिन IIT के अलावा और भी कुछ बड़े कॉलेज हैं जहां जे JEE Advance के आधार पर ही प्रवेश मिलता है।इन कॉलेज में निम्न प्रमुख है:
1. Rajiv Gandhi Institute of petroleum Technology (RGIPT), Rae Barele
 
2. Indian Institute of Science Education and Research (IISER), तिरुवनंतपुरम, भोपाल, मोहाली, कोलकाता, पुणे 
 
3. Indian Institute of Space Science and Technology (IIST), तिरुवनंतपुरम

JEE Advance का Pattern कैसा होता है?

यह एग्जाम देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है एग्जाम को क्लियर करने के लिए काफी मेहनत एवं लगन की जरूरत होती है एक सही योजना एवं सही मार्गदर्शन में इस परीक्षा को पास कर सकते हैं। ऑनलाइन माध्यम से होने वाली ये एग्जाम ऑब्जेक्टिव टाइप की होती है एवं इसमें भी Negative Marking होती है यह एग्जाम दो परत में होती है प्रत्येक पेपर में फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ के पेपर होते हैं।

JEE Advance के लिए आवेदन कैसे करें?

JEE Mains के रिजल्ट आने के बाद आप ऑनलाइन माध्यम से JEE Advance के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

आज आपने क्या सीखा

आसा करते है आपको हमारी सभी जानकरी पसंद आ रही होगी इस पोस्ट के माधियम से आपको सिखने को मिला JEE के उप्पर की आखिर ये JEE Mains Kya Hai & JEE Advance Kya Hai, JEE का पूरा नाम क्या है (JEE Full Form In Hindi) JEE Mains & JEE Advance करने के बाद एडमिशन कहाँ मिलेगा, JEE Mains & JEE Advance पेपर कैसा होता है और JEE Advance के लिए अप्लाई कैसे करे? अगर आपको हमारी ये जानकरी पसंद आयी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और जानने वालो को शेयर जरूर करे। धन्यवाद…

LAN Full Form In Hindi – लैन क्या होता है हिंदी में? जरूर पढ़े

PIN Full Form In Hindi – Pin Code Kya hota hai. जरूर पढ़े

Leave a Comment